IAS Mantra Series : Cloud Computing

 

क्लाउड कंप्यूटिंग क्या है   ?

बात उन दिनों की है जब मेरी नयी नयी शादी हुई थी । मैं अपनी पत्नी के साथ 20 दिनों के लिए एक नए शहर में हनीमून पर गया ।अपने साथ कुछ कपड़े एवं दैनिक उपयोग की वस्तुएं लेकर हम पहुँच गए थे ।चूँकि मेरी आमदनी उस समय कुछ ज्यादा नहीं थी इसलिए होटल में ठहरने के बजाय हमने एक अच्छा बंगला  किराये पर लेने का निश्चय किया जो देखने में होटल के जैसा ही आलिशान हो ।
परन्तु किराया पता करने पर मेरी बजट से ज्यादा था ।तभी एक और हनीमून जोड़ा ठहरने के तलाश करते हुए हमें मिला। बातचीत करने पर पता चला कि वे लोग भी हमारे शहर से ही है । फिर हम सबने मिलकर बंगला को किराये पर ले लिया । खुबसूरत लॉन सहित बंगले में रहने का आनन्द लेने लगे । अगले दिन मैं एक कार के शोरूम में गया । मैंने शोरूम के मालिक को बताया कि मुझे इस शहर में 20 दिनों के लिए रहना है। मैं अपनी पत्नी को अपनी कार से शहर घुमाना चाहता हूँ और कार खरीदने के लिए मेरे पास पर्याप्त धन नहीं है । तो उसने मुझे कहा ठीक है आप सिक्यूरिटी दे दो और कार को ले जाओ | प्रति दिन इस्तेमाल करने के लिए आपको 1000 रूपये देने होंगे ।

मैं कार लेकर बंगले पर पहुंचा तो मेरी पत्नी ख़ुशी से झूम उठी और हम घुमने के लिए निकल पड़े ।अब ध्यान देने वाली बात यह है कि न तो बंगला मेरा , न तो कार मेरा, लेकिन थोड़े से रूपये किराये के रूप में देकर मैं उन दोनों का इस्तेमाल ऐसे कर रहा हूँ जैसे मेरा अपना ही हो । उसी प्रकार क्लाउड कंप्यूटिंग एक ऐसी व्यवस्था है जिसमे न तो हार्डवेयर आपका रहता है न तो सॉफ्टवेयर आपका है , लेकिन थोड़े से किराये देकर आप दोनों का इस्तेमाल ऐसे कर सकते है जैसे आपका अपना हो ।अर्थात जिस प्रकार एक ही घर को कई लोग पूरी तरह से शेयर कर रहे है । उसी प्रकार  क्लाउड कंप्यूटिंग में भी एक ही सिस्टम को कई लोंगो द्वारा  शेयरिंग की जाती है । 

उपरोक्त उदाहरण में बंगला को हार्डवेयर समझ लीजिये और कार को सॉफ्टवेयर समझ लीजिये ।जिस प्रकार हम कपडे और कुछ दैनिक उपयोग की बस्तुएं सिर्फ साथ में लेकर किसी अन्य जगह पर भी बंगला और गाड़ी का आनन्द इस प्रकार ले रहे है जैसे अपने घर में  रह  रहे है, उसी प्रकार आप कीबोर्ड और मोनिटर लेकर बिना हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के कंप्यूटर का इस्तेमाल कहीं भी कर सकते है।

  • क्लाउड कंप्यूटिंग से क्या लाभ है ? 
  • अपने फाइल को क्लाउड पर स्टोर कर सकते है ।
  • सुविधा के अनुसार जब चाहें उसे देख सकते है ।
  • वायरस के हमले से आप अपनी फाइल को बचा सकते है ।
  • मंहंगी सॉफ्टवेयर के खरीदने तथा उसके up gradation के खर्च से बच सकते है ।
  • सिक्यूरिटी पर होने वाले खर्च को बचा सकते है ।
  • इसके अतिरिक्त फाइल को ट्रान्सफर करने पर आकड़ो के सम्प्रेष्ण पर होने वाले खर्च , आईटी प्रशिक्षित कर्मचारी  रखने तथा सर्वर रूम इत्यादी के खर्च की भी बचत हो जाएगी ।

क्लाउड कंप्यूटिंग से क्या दिक्कते  है ?

  • डाटा सुरक्षा का जोखिम लगा रहेगा |
  • अनिवार्य रूप से एक उच्च गति के इंटरनेट कनेक्शन के लिए आवश्यकता होगी जो हमारे जैसे देश के लिए बड़ी बाधा है |
  • यूनिवर्सल मानकीकरण की आवश्यकता को पूरा करना पड़ेगा  जो अब भी सेवा प्रदाताओं के बीच में अंतर है |

  • हर समय छोटे छोटे कार्यों  के लिए  भी  सेवा प्रदाताओं  पर निर्भर पड़ेगा  जिससे कार्य  में बिलम्ब की सम्भावना रहेगी  |

अलग अलग  कंप्यूटिंग संसाधनों के आधार पर निम्नलिखित सेवाएँ  उपलब्ध है:

  1. इंफ्रास्ट्रक्चर सेवा के रूप में  (Infrastructure as a service-IaaS):  उपयोगकर्ता इंटरनेट सेवा प्रदाताओं के माध्यम से सिस्टम का उपयोग कर सकते हैं|पूरे सिस्टम (आभासी मशीन) उपयोगकर्ताओं के लिए प्रदान किया जाता है |आवंटित संसाधन के आधार पर चार्ज लिया जाता है जैसे -अमेज़न
  2. एक मंच के रूप में सेवा  (Platform as a service -PaaS): ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ साथ इस  मॉडल  को  पूरे  सिस्टम में  सॉफ्टवेयर उपलब्ध कराया जाता है।जैसे: गूगल apps , इंजन
  3. सॉफ्टवेयर के रूप में सेवा(Software as service -SaaS): सेवा प्रदाता  कंपनियों द्वारा बनाया गया  प्रचलित  सॉफ्टवेयर है ।सदस्यता के  आधार  पर    इन  सेवाओं  का  उपयोग:  याहू, जीमेल
  4.  भंडारण के रूप में  सेवा (Storage as a service STaaS):  संग्रहण अलग भंडारण बनाए रखने की छुटकारा प्रदान की जाती है | जैसे -विंडोज़  Sky Drive.

फिर भी क्लाउड कंप्यूटिंग एक बहुत ही आसन तथा सुविधाजनक व्यवस्था है जिसका उपयोग करना आर्थिक रूप से फायदेमंद है । साथ ही उपयोग करना भी आसान है । जैसे – जैसे भारत में इन्टरनेट का तेजी से विकाश होता जायेगा, निसंदेह रूप से क्लाउड कंप्यूटिंग की उपयोगिता भी बढती जाएगी ।आप अपना डॉक्यूमेंट गूगल डॉक्यूमेंट में या विंडोज के स्काई ड्राइव में स्टोर करके रख सकते है और जब कही जरुरत हो अपने पासवर्ड का इस्तेमाल कर लॉग इन कर इन्हे उपयोग में ला सकते है ।

Be Sociable, Share!

Comments are closed

Sorry, but you cannot leave a comment for this post.

 

 

Locations of Site Visitors

 

Follow Us!

 

My Great Web page